06 अक्तूबर 2016

सेना की वर्दी पहन कर रहा था अवैध वसूली: धराया फ्रॉड

एक तरफ जहाँ भारतीय सेना पर देश ही नहीं दुनियां भर को भरोसा है वहीँ मधेपुरा में एक युवक ने सेना की वर्दी पहन कर जी काम किया है, उसके लिए उसकी थू-थू होनी स्वाभाविक है. मधेपुरा जिले के सिंहेश्वर थानाक्षेत्र केलरहा सतोखर सड़क पर सीआरपीएफ की वर्दी पहन कर राहगीरों वाहनों से वसूली करने वाले गिरोह के सरगना को ग्रामीणों ने पकड़ लिया. बाद में उसे पुलिस के हवाले कर दिया गया.
    जानकारी के अनुसार सतोखर गांव के पास पिछले कुछ दिनों से सीआरपीएफ वर्दी पहन कर कुछ लड़कों के द्वारा वसूली किये जाने की शिकायत लोगों ने की थी. इस बीच बुधवार की रात को जब दोबारा चार लड़के उसी वर्दी में राहगीरों और वाहनों को रोककर कागजातों की कमी को देखते हुए वसूली कर रहे थे. इसी दौरान उसी गांव का एक युवक मुन्ना कुमार भी कहीं से भोज खाकर लौट रहा था. जब उसकी बाइक को भी उनलोगों ने रोकवाकर कागजात दिखाने की बात कही तो उसके हावभाव से मुन्ना को कुछ शक हो गया. इस बीच आसपास के लोगों के अलावे अन्य वाहन मालिक भी जुट गये. भीड़ बढ़ता देख तीन युवक तो भाग गए पर एक युवक  को लोगों ने बाइक समेत पकड़ लिया. इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई. मौके पर पहुंचे  सिंहेश्वर थाने की पुलिस के हवाले उस युवक को कर दिया गया.
      उक्त युवक ने पूछताछ में खुद को सुपौल जिले के राघोपुर प्रखंड के श्रीपुर दौलतपुर का राहुल कुमार झा बताया. राहुल ने बताया कि उसके पिता सेना में कार्यरत हैं. इससे सेना की वर्दी उसे आसानी से हासिल हो गई.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...