30 अक्तूबर 2016

दीपावली की धूम पर सुपौल में लक्ष्मी के बजाय अग्निदेव ने मचाया तांडव

कोसी में हर तरफ दीपावली की धूम है पर सुपौल के एक वार्ड में घरों के दीपक बुझ चुके हैं.
सुपौल जिला मुख्यालय के रिहायसी इलाके के वार्ड नंबर 02 स्थित मेला रोड में दीपावली की देर शाम शॉर्ट-सर्किट से लगी आग में 08 घर जल कर राख हो गये. अगलगी की घटना में 10 लाख की क्षति का अनुमान लगाया जा रहा है. फ्रायर ब्रिगेड के जवानों की मदद से आग पर भारी मशक्कत के बाद काबू पाया जा सका.
    जानकारी के अनुसार मेला रोड स्थित एक फर्नीचर की दुकान में शॉर्ट- सर्किट से आग लग गयी. देखते ही देखते आग बगल के फूस के घर को चपेट में लिया. आग की लपटे इतनी तेज थी की बगल के सभी घरों में आग लग गयी. चीखने-चिल्लाने और आग की लपटे देख कर आस पास के लोग जमा हो गये. लोगों ने फायर ब्रिगेड और बिजली विभाग को सूचना दी, लेकिन तब तक सभी घर स्वाहा हो चुका था. इस घटना में फर्नीचर की दुकान में रखे कीमती फर्नीचर सहित घरों में रखा सारा सामान जल कर राख हो गये. एक फायर ब्रिगेड की वाहन का पानी खत्म होने के बाद दूसरे वाहन को बुलाया गया तब जाकर आग पर काबू पाया जा सका.
खुशी का माहौल हुआ गमगीन: इस अगलगी की घटना ने मेला रोड निवासी को गमगीन कर दिया है. चारों और प्रकाश और पटाखे की गूंज के बीच यह मुहल्ला बिलकुल शांत पड़ा है. जो दीपक जल रहे थे वह भी बुझ चुके हैं. हर लोगों की जुबान से एक ही बात निकल रही थी कि लक्ष्मी की आगमन के बजाय अग्निदेव ने रौद्र रूप धारण कर मुहल्ले वासियों की खुशी छीन ली.
(रिपोर्ट: अशोक यादव)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...