26 सितंबर 2016

मधेपुरा: अलग-अलग घटना में दो डूबे, एक भाई को बचाकर खुद नहीं बच सका तो दूसरा था माँ का एकलौता

मधेपुरा जिले के आलमनगर थाना क्षेत्र के खुरहान निवासी तरूण सिंह के 15 वर्षीय पुत्र वर्ग 9 के छात्र संजम कुमार की मौत लदमा नदी के तेज बहाव की चपेट में आने से हो गई.
       घटना स्थल पर उपस्थित छात्रों एवं मृतक के भाई अमन कुमार ने बताया कि हमलोग 8-10 छात्र अपनी-अपनी साईकिल से आलमनगर से कोचींग पढ़कर खुरहान जा रहे थे, तभी खुरहान से एक बड़ी वाहन को साईड देने के क्रम में मैं नदी में गिर गया. मुझे गिरते देख मेरा 15 वर्षीय छोटा भाई संजम कुमार मुझे बचाने के लिए नदी में छलांग लगा दिया. मुझे तो वह पानी में मौत के मुंह में जाने से बचा दिया, परन्तु वह नदी के तेज बहाव के चपेट में आ गया और उसकी मौत हो गई.
स्थानीय लोगों की मदद से दो घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद छात्र का शव बाहर निकाला गया. घटना की खबर पूरे प्रखंड में आग की तरह फैल गई. लोग  छात्र को एक नजर देखने के लिए स्थनीय अस्पताल में हजारों की भीड़ उमड़ पड़ी. वहीं  पुलिस निरीक्षक सह थाना अध्यक्ष सर्वेश्वर सिंह ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए मधेपुरा भेज दिया.
वहीँ एक दूसरी घटना में आलमनगर थाना क्षेत्र के कुजौड़ी पंचायत स्थित जगदीशपुर बाजार से सटे नदी के ड्रेनेज में डूबने से तीन वर्षीय बालक सत्यम कुमार की मौत हो गई. इस संदर्भ में मृतक के पिता संतोष मेहता ने बताया कि जिउतिया पर्व के करन बालक अपनी माँ के साथ स्नान करने दो दिनों तक आया था. रविवार की संध्या चार बजे घर में कोई नहीं था वह अपनी माँ  को खोजते-खोजते नदी के पास आ गया और नदी में डूब गया. अपने एकलौते पुत्र की मौत होने की खबर सुनते हीं माँ बेसुध हो गई और पूरे गाँव में मातम छा गया.
(रिपोर्ट: प्रेरणा किरण)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...