03 सितंबर 2016

सड़क निर्माण को लेकर ग्रामीणों ने किया सड़क जाम, जाम में फंसे जिलाधिकारी भी

मधेपुरा के मुरलीगंज प्रखंड के भतखोरा पंचायत अंतर्गत द्वारिका टोला में सड़क निर्माण की मांग को लेकर आक्रोशित स्थानीय पीड़ित ग्रामीण समेत क्षेत्र के लोगों ने एन एच 107 सहरसा-पूर्णियां मुख्य मार्ग को घंटों जाम कर उग्र आन्दोलन और रोषपूर्ण प्रदर्शन किया. सड़क जाम के कारण घंटों फंसे रहे हजारों राहगीर सहित जिलाधिकारी भी.
     इस दौरान सड़क पर वाहनों की लम्बी कतार लगी रही. बता दें कि मुरलीगंज प्रखंड के भतखोरा पंचायत के द्वारिकाटोला होते हुए भैरोपट्टी रेलवे हाल्ट पार कर प्रखंड के कई दर्जनों पंचायत को जोड़ती है. मामला यहाँ अधूरे बने मुख्यमंत्री ग्राम संपर्क सड़क निर्माण का है, जिसको लेकर आक्रोशित स्थानीय ग्रामीण समेत आस-पास के हजारों लोगों ने सड़क जाम कर दिया. जानकारी के अनुसार गाँव में हो रहे मुख्यमंत्री सड़क निर्माण कार्य को लेकर गाँव के ही सेवा निवृत शिक्षक श्यामनारायण यादव ने वर्षों से सड़क अतिक्रमण कर लोगों का रास्ता अवरुद्ध कर दिया था. इस वजह से सड़क निर्माण कार्य छोड़कर संवेदक फरार चल रहे हैं. कई लोगों ने मुरलीगंज के सीओ जे.पी स्वर्णकार पर आरोप लगाया कि अतिक्रमण कारी शिक्षक श्यामनारायण यादव से मोटी राशि रिश्वत लेकर जिला प्रशासन को गुमराह कर रहे थे, जिस कारण  आज तक सड़क निर्माण के दिशा में कोई कार्रवाई नहीं हो रही थी. 
        मौके पर जिलाधिकारी मो. सोहैल ने अतिक्रमणकारी शिक्षक को खड़ी खोटी सुनाते हुए जमकर फटकार लगाया. बाद में लोगों को आश्वासन देते हुए कहा कि अतिक्रमण कारी शिक्षक श्यामनारायण यादव का घर तोड़ते हुए जल्द अतिक्रमित जमीन को खाली करवा कर सड़क निर्माण करवाया जाएगा. आश्वासन के बाद सड़क जाम हटाया गया.
     उधर सैकड़ों ग्रामीण सहित स्थानीय समाज सेवी प्रमोद प्रभाकर ने कहा कि अगर 15 दिनों के अन्दर सड़क निर्माण कार्य प्रारंभ नहीं हुआ तो वे उग्र आन्दोलन को बाध्य होंगे, जिसकी सारी जबाबदेही जिला प्रशासन की होगी. मौके पर सेवा निवृत निवृत शिक्षक राजेश्वर यादव, प्रो.नरेंद्र यादव, त्रिवेणी यादव, महादेव प्रसाद, पैक्स अध्यक्ष विनोद यादव, गंगा यादव, बिरेन्द्र यादव, राजो ऋषिदेव, प्रवीन कुमार, चिंटू मंडल, गोपाल यादव आदि सैकड़ों लोग मौजूद थे.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...