08 सितंबर 2016

‘मोदी ने पाक और चीन को एहसास करा दिया है कि उनका सीना 56 नहीं बल्कि 66 इंच का है’: सुपौल में बोले गिरीराज सिंह

सुपौल । कश्मीर में अलगाववादी नेताओं को मिलने वाली सभी सरकारी सुविधा बंद होनी चाहिये. यह बातें भारत सरकार के लघु उद्योग मंत्री गिरीराज सिंह ने बुधवार को जिला मुख्यालय में भाजपा के निवर्तमान जिलाध्यक्ष नागेंद्र नारायण ठाकुर के आवास पर मीडिया को संबोधित करते हुए कही. श्री सिंह ने कहा कि कांग्रेस की गलत नीतियों की वजह से ही कश्मीर की समस्या उत्पन्न हुई है. वहीं जवाहरला नेहरू की अदूरदर्शिता की वजह से भारत-चीन से युद्ध में पिछड़ा.
        केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पाक अधिकृत कश्मीर पर भारत का कब्जा होना चाहिये. सरदार पटेल अगर देश के तब नेता होते तो यह नौबत नहीं आती. सौभाग्य है कि भारत को नरेंद्र मोदी जैसा पीएम मिला है, जिन्होंने इतने ही दिनों में पाक व चीन जैसे देशों को महसूस करा दिया है कि उनका सीना 56 नहीं बल्कि 66 इंच का है. सीमा पर सेना को दुश्मनों का मुंहतोड़ जबाव देने के लिये खुली छूट दी गयी है.
              प्रेसवार्ता के दौरान मंत्री ने बिहार सरकार पर जम कर निशाना साधा. कहा नीतीश सरकार की हालत माल महाजन का और मिरजा खेले होरी वाली हो गयी है। केंद्र सरकार भरपूर मदद कर रहा है. उन्होंने कांग्रेस के राहुल गांधी पर जमकर हमला करते हुए कहा की राहुल गांधी को गेंहू और जौ की पहचान तक नहीं है वो राजनीति क्या करेगे साथ ही उन्हें रानी के कोख से जन्मा हुआ संतान कहा तो इधर गिरिराज सिंह ने देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर नेहरू पर भी जुबानी हमला करते हुए देश की बर्बाद करने का आरोप लगाया की कांग्रेस की गलत नीति के कारण कश्मीर की समस्या उत्पन हुई.
        उन्होंने कहा कि बिहार की विधि व्यवस्था पूरी तरह चौपट है. अपराध बढ़ रहे हैं. डीआईजी व न्यायिक पदाधिकारी से रंगदारी मांगा जा रहा है. वहीं बिहार आतंकवादियों की नर्सरी एवं अलगाववादियों का गढ़ बनता जा रहा है. पटना के कारगिल चौक पर पाकिस्तान का झंडा लहराया जाता है. पाक जिंदाबाद के नारे लगाये जाते है और राज्य सरकार चुप बैठी रहती है.
     केंद्रीय मंत्री ने शराबबंदी की चर्चा करते कहा कि शराबबंदी का सभी समर्थन करते हैं, लेकिन उसके लिये बनाया गया तुगलकी कानून में सुधार की आवश्यकता है. कहा कि नालायक बेटा के कुकर्मों की सजा उसके बुजुर्ग मां-बाप को उठाना पड़े, यह कहां का कानून है. कहा कि नीतीश कुमार ने पिछले 10 वर्षों में बिहार वासियों को छक कर शराब पिलाया. अब शराबंदी के बाद बिहार में शराब का अवैध कारोबार फल-फूल रहा है, जिसे सत्ता पक्ष का भी संरक्षण प्राप्त है.
     केंद्रीय मंत्री ने कहा कि नीतीश कुमार शराबबंदी की सीढ़ी के सहारे पीएम बनने का ख्वाब देख रहे हैं. राज्य की जनता सभी बातों को समझ रही है. समय पर वे इसका जबाव देंगे. केंद्रीय मंत्री ने नीतीश कुमार पर आरक्षण के नाम पर भ्रम फैलाने का भी आरोप लगाया. कहा शिक्षकों को वेतन नहीं मिल रहा, युवकों को रोजगार नहीं मिल रहा और विरोध करने पर दलितों पर लाठी बरसायी जाती है. इस अवसर पर विधायक नीरज कुमार सिंह बबलू, पूर्व सांसद विश्व मोहन कुमार, पूर्व विधायक किशोर कुमार मुन्ना, प्रदेश उपाध्यक्ष रामनरेश सिंह आदि मौजूद थे.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...