12 सितंबर 2016

सिंहेश्वर नाथ की जमीन का अतिक्रमण कर मकान बनाने की कोशिश, एसडीओ ने लगाया धारा 144

मधेपुरा जिले के प्रसिद्ध बाबा सिंहेश्वर नाथ की जमीन का अतिक्रमण कर उसपर मकान बनाने के एक मामला प्रकाश में आया है. हालांकि सिंहेश्वर मंदिर न्यास समिति के द्वारा रोकने के बावजूद काम बंद नही करने पर एसडीओ मधेपुरा से बाबा की जमीन को बचाने की गुहार लगाईं गई. जिसके बाद एसडीओ संजय कुमार निराला ने तत्काल उक्त जमीन पर धारा 144 दंड प्रक्रिया संहिता लगा कर काम रोकने का आदेश दे दिया है.  
         एक समय था जब लोग बाबा को कई बीघा जमीन दान में दे कर अपने को धन्य समझते थे पर आज समय ने पलटा खाया और बाबा भोले नाथ की विरासत की जमीन को नोच-नोच कर खाने का सिलसिला शुरू हो गया है.
     जानकारी के अनुसार 28 अगस्त को सिंहेश्वर न्यास समिति की बैठक में समिति सदस्यों द्वारा अतिक्रमणकारियों से जमीन खाली कराने का प्रस्ताव पास होने से अतिक्रमणकारियों ने जमीन को पचाने की रणनीति शुरू कर दी है. आनन-फानन में चोरी छिपे घर बनाने का सिलसिला शुरू हो गया. इस मामले में न्यास के जमीन और वृक्ष की रखवाली करने वाले अनुसेवक बिन्देश्वरी महतो ने प्रबंधक को बताया कि धनबाद गेट से उत्तर और हाई स्कूल सिंहेश्वर से पश्चिम न्यास की जमीन को खेाद कर मकान बनाया जा रहा है. सूचना पर न्यास के प्रबंधक ने जमीन पर अवैध कब्जा रोकने के लिये न्यास के दो कर्मी सचेन यादव और राजा मल्लिक को  प्रतिनियुक्त किया.
        कर्मियों ने कई बार काम रोकने को कहा लेकिन उसके द्वारा अवैध रुप से काम होते रहने के कारण व्यवस्थापक उदय कान्त झा ने एसडीओ को आवेदन देकर उक्त बाबा की जमीन को अतिक्रमणकारियों से बचाने की गुहार लगाई. एसडीओ श्री निराला उक्त जमीन पर घारा 144 लगाते हुऐ 4 लोगों को काम रोकने तथा यथा स्थिति बनाये रखने का आदेश दिया. आदेश में श्री निराला मंदिर ने 24 डिसमिल जमीन, खाता नंबर 417, खेसरा नंबर 247 में 7 डिसमिल तथा खेसरा 248 में 17 डिसमिल जमीन पर किसी तरह का निर्माण नही करने का आदेश देते हुऐ नोटिस 1. पिन्टू अग्रवाल पिता- सैनी अग्रवाल 2. अरुण सिंह वगैरह पिता. स्व. फुलेन्द्र नारायण सिंह 3. सिया राम भगत पिता. स्व. जगत भगत 4. गौरी शंकर भगत पिता. स्व. जगत भगत को भेजा है. इस कारवाई के बाद अतिक्रमण करने वालो में खलबली मच गई है.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...