17 सितंबर 2016

मधेपुरा: फर्जी चिकित्सक ने ली जच्चा की जान, शौचालय के बहाने भागा चिकित्सक

मधेपुरा जिला के कुमारखंड में एक फर्जी चिकित्सक के निजी क्लिनिक में प्रसव के दौरान जच्चा की मौत हो गई. मौत के बाद  चिकित्सक शव को छोड़ कर फरार हो गया.
     जानकारी के अनुसार मघेपुरा जिला के कुमारखंड प्रखंड के  छर्रापट्टी निवासी अजीत कुमार ने शुक्रवार की सुबह 9 बजे अपनी पत्नी खुशबू देवी को प्रसव के लिए पीएचसी कुमारखंड में भर्ती कराया. शाम में पीएचसी ने वहां सुविधा न होने का हवाला देते हुए सदर अस्पताल मधेपुरा रेफर कर दिया. सूत्रों के अनुसार एक आशा कार्यकर्ता की सलाह पर परिजन जच्चा को पीएचसी के उत्तर निजी क्लीनिक चला रहे फर्जी चिकित्सक के पास ले गए. जहाँ चिकित्सक और उसकी पत्नी आभा देवी ने अच्छा इलाज का झांसा देकर भर्ती कर लिया. बताते हैं कि 2 बजे के लगभग प्रसव के दौरान जच्चा और बच्चा ठीक-ठाक थे, लेकिन कुछ देर बाद जच्चा की हालत बिगड़ने लगी और शाम होते होते की मौत हो गई. जच्चा के मौत होते ही कथित डा. कौशल किशोर शौचालय के बहाने क्लीनिक छोड़ कर फरार हो गया.
    खुशबू की मौत की खबर परिजनों को मिलते ही परिजन घटनास्थल पर पहुंच गए. सुपौल जिले के भपटियाही निवासी खुशबू के पिता शैलेंद्र यादव ने मधेपुरा टाइम्स को बताया कि चिकित्सक की लापरवाही के कारण खुशबू की मौत हो गई. समय रहते इसका सही ईलाज होता तो आज खुशबू जिंदा होती. थाना मे डॉक्टर के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायेगें.
    वहीं थानाध्यक्ष निजामुल हक ने घटना की पुष्टि की. जाहिर है ऐसे मौत के सौदागरों को कड़ी से कडी सजा मिलनी चाहिए ताकि फिर पैसे के हवस में किसी की जान से खेलने की हिम्मत न करें.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...