15 सितंबर 2016

संवेदनशून्य हैं नरेंद्र मोदी और भारत सरकार के मंत्री जो बिहार में बाढ़ से हो रही तबाही का तमाशा देख रहे हैं: आपदा मंत्री

सूबे के आपदा प्रबंधन मंत्री प्रो. चंद्रशेखर ने कहा कि जहाँ एक तरफ बिहार में बाढ़ से तबाही मची हुई है वहीँ केन्द्र की मोदी सरकार मजे ले रही है.
      मधेपुरा अतिथिशाला में आयोजित पत्रकार सम्मलेन को संबोधित करते हुए प्रो० चन्द्रशेखर ने कहा कि सूबे के 31 जिले में 80 लाख लोग झारखण्ड, मध्यप्रदेश और नेपाल के जलग्रहण क्षेत्रों से आयातित बाढ़ से तबाही झेल रहे हैं. लेकिन बिहार के आधे दर्जन से अधिक केन्द्रीय मंत्री व्यक्तिगत तौर पर या समूह में बिहार के बाढ़ पीड़ितों के लिए किसी प्रकार की सहायता दिलाने की कोई पहल केन्द्र सरकार से नहीं कर रही है. संवेदनशून्य हैं भारत सरकार के मुखिया और मंत्री को बिहार में बाढ़ से हो रही तबाही का तमाशा देख रहे हैं, फिर भी विकास पुत्र एवं बिहार के लोकप्रिय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अगुवाई में सामाजिक न्याय के योद्धा लालू यादव के सहयोग से चल रही है महागठबंधन की सरकार का हौसला काफी बुलंद है और बिहार सरकार अपने बूते बाढ़ पीड़ितों को हर सुविधा प्रदान कर रही है. किसी प्रकार की कमी नहीं होने देगी. मंत्री ने कहा कि आरटीजीएस के माध्यम से बाढ़ पीड़ितों के खाते में सहायता राशि भेज रही है और जिन लोगों का खाता नहीं खुल सका है ऐसे लोगों का खाता भी खुलवाने की प्रक्रिया चल रही है.
      कहा कि बिहार के सभी प्रभावित जिलों के जिलाधिकारी को निर्देश जारी किया गया है सभी पीड़ितों को जल्द सहायता राशि का भुगतान किया जाय. उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि विरोधी की साजिश है, शहाबउद्दीन के मामले में सरकार को घेर रहे हैं. ये सब चलने वाला नहीं है सरकार महागठबंधन के तहत चल रही है और चलेगी.
            इस अवसर पर जिलाध्यक्ष देवकिशोर यादव, डॉ. देव प्रकाश, तेजनारायण यादव, अभिनन्दन यादव, आलोक कुमार मुन्ना, डॉ. राजेश रतन, योगेन्द्र राय, दीपनारायण यादव, पंकज सिंह, पंकज यादव, पूर्व प्रमुख विकासचन्द्र यादव, नौशाद आलम, मोलाना नजीर आलम आदि दर्जनों राजद व जदयू कार्यकर्ता मौजूद थे.  

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...