08 सितंबर 2016

मधेपुरा पुलिस के लिए सायबर सिक्यूरिटी वर्कशॉप: ताकि सायबर क्राइम पर लग सके लगाम

तकनीकी युग के विस्तार और बढ़ते सायबर अपराध के दौर में जहाँ एक तरफ लोग इसके शिकार हो रहे हैं वहीँ पुलिस की भूमिका भी काफी अहम् होती जा रही है. ऐसे में पुलिस के लिए न सिर्फ सायबर खतरों के प्रति जागरूक होना आवश्यक है बल्कि कम से कम वरीय पुलिस पदाधिकारियों को सायबर क्राइम और इन्वेस्टिगेशन की गहन जानकारी भी रखनी होगी.
    सायबर सिक्यूरिटी अवेयरनेस को लेकर आज मधेपुरा जिला मुख्यालय के झल्लू बाबू सभागार में एक वर्कशॉप का आयोजन किया गया जिसमें अपराध के बदलते प्रकार और उनसे निबटने के तरीकों पर महत्वपूर्ण जानकारी दी गई. मधेपुरा जिला मुख्यालय स्थित सृष्टि इन्फोटेक के द्वारा आयोजित इस कार्यशाला में सृष्टि इन्फोटेक के निदेशक सायबर एक्सपर्ट हेमंत सरकार के अलावे विषय पर गहन जानकारी प्राप्त अभिषेक और वैभव ने सायबर वर्ल्ड में आसन्न खतरों से पुलिस पदाधिकारियों को अवगत कराया और मोबाइल सिक्यूरिटी, एंड्रयोइड सिक्यूरिटी, वेबसाईट, ईमेल सिक्यूरिटी के अलावे सायबर क्राइम के विभिन्न पहलूओं की जानकारी दी.
    इस उपयोगी कार्यशाला में मधेपुरा के पुलिस अधीक्षक विकास कुमार, एएसपी राजेश कुमार, मधेपुरा थानाध्यक्ष इन्स्पेक्टर मनीष कुमार, महिला थानाध्यक्ष प्रमिला  समेत जिले के सभी वरीय पुलिस पदाधिकारी और थानाध्यक्ष ने भाग लिया. कार्यक्रम के आयोजक हेमंत सरकार ने बताया कि हमारा समाज जिस तेजी के साथ कम्प्यूटर और मोबाइल तकनीक पर आधारित हो गया है वहां ऐसे कार्यक्रमों के द्वारा सायबर सिक्यूरिटी के प्रति हर व्यक्ति को जागरूक किया जाना आवश्यक है. वे भविष्य में ऐसे कार्यक्रम जिले के विभिन्न स्कूलों और कॉलेजों में भी आयोजित करवाने जा रहे हैं ताकि छात्रों को भी सुरक्षित ढंग से इंटरनेट और मोबाइल यूज करने की दिशा में सही जानकारी मिल सके.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...