05 सितंबर 2016

शिक्षक दिवस पर बीएनएमयू के शिक्षकों और अधिकारियों के खिलाफ अर्धनग्न प्रदर्शन

एक तरफ जहाँ मधेपुरा जिले भर में छात्र-छात्राएं शिक्षकों के सम्मान में आज शिक्षक दिवस मनाकर उन्हें नमन कर रहे थे, वहीँ दूसरी तरफ विवादों का आलय बना मंडल विश्वविद्यालय आज भी छात्रों के प्रदर्शन का गवाह बना हुआ था. छात्र-नेता आज भी आन्दोलन कर रहे थे और उन्होंने अर्धनग्न होकर अपना विरोध प्रदर्शन किया.
       बीएनएमयू, मधेपुरा द्वारा समय पूरा होने के बाद भी बीए पार्ट-III का रिजल्ट समय पर प्रकाशित नहीं करने तथा संयुक्त छात्र संगठन के नेताओं पर परीक्षा नियंत्रक नवीन कुमार द्वारा हमला करवाने के प्रयास के विरोध में आज विश्वविद्यालय परिसर में छात्र नेताओं ने अर्धनग्न होकर ‘घेरा डालो, डेरा डालो’ कार्यक्रम किया.
    विश्वविद्यालय बंदी का एलान कर चुके छात्र नेताओं ने विश्वविद्यालय मुख्यालय पहुंचकर वीसी और प्रो वीसी की गैर हाजिरी में कुलसचिव के. पी. सिंह के आवास के मेन गेट में ताला लगा दिया जिसके कारण कुलानुशासक सहित कई पदाधिकारी शाम तक कैद ही रहे.
    एआईएसएफ के संयुक्त राज्य सचिव हर्ष वर्धन सिंह राठौर ने कहा कि परीक्षा नियंत्रक नवीन कुमार लगातार परीक्षा विभाग को गर्त में धकेले जा रहे हैं और उनके आचरण से विश्वविद्यालय की छवि लगातार धूमिल होती जा रही है. एनएसयूआई के प्रदेश महासचिव मनीष कुमार ने विश्वविद्यालय के अधिकारीयों की कार्यशैली पर प्रहार करते हुए कहा कि छात्र-छात्राओं के प्रति विश्वविद्यालय के अधिकारियों का आचरण दुर्भाग्यपूर्ण है. विश्वविद्यालय प्रशासन यदि उनकी मांगों को पूरा नहीं करती है तो राज्यस्तर पर इसे आन्दोलन का मुद्दा बनाया जाएगा.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...