22 अगस्त 2016

लड़का 9वीं का, लड़की 11वीं की: नाबालिग की दोस्ती, प्यार और शादी के बाद अपहरण व रंगदारी का मामला दर्ज

''ना उम्र की सीमा हो, न जन्म का हो बंधन
 जब प्यार करे कोई तो देखे केवल मन
 नई रीत चलाकर तुम ये रीत अमर कर दो."
       वर्ष 1981 में बनी हिन्दी फिल्म 'प्रेमगीत' में मशहूर गजल गायक जगजीत सिंह की ये पंक्तियाँ आज भी कई वास्तविक प्रेम कहानियों में सटीक लगती है. कहते है प्यार अंधा होता है जिसमे किस ने किस से मुहब्बत कर ली उसमे उम्र शायद मायने नहीं रखता. बिहार के सुपौल जिले के हरदी पंचायत के अजान टोला में ऐसा ही कुछ देखने को मिला है जंहा एक नवीं क्लास में पढ़ने वाले छात्र और ग्याहरवीं क्लास में पढ़ने वाली छात्रा का प्यार परवान चढ़ गया.
     परिजनों ने जब दोनों को एक साथ देखा तो छात्र की पहले तो बांध कर पिटाई कर दी गयी और फिर भी दोनों ने जहर खा कर मर जाने की बात कही तो उसी पंचायत के लोगो ने उस दोनों की मंदिर में शादी करवा डाली. वही इस बात से नाराज छात्र के पिता ने सदर थाना में लिखित शिकायत दी है कि उसके बेटे को अपहरण कर लिया गया है तो पुलिसिया जांच भी आरम्भ हो चुका है.
     छात्र विकास ने स्कूल ड्रेस में ही दूल्हा बनकर शादी रचाई और पंचायत के ग्रामीणों ने बतलाया कि दोनों की जान बचाने के ख्याल से शादी करवाई गयी, जिसमे लड़के के मां-बाप नहीं आये. उधर लड़के के पिता ने अपहरण के साथ दो लाख रंगदारी की मांग करने की बात सदर थाने की पुलिस को दिये आवेदन में दिया है.
   सदर थानाध्यक्ष राम इकबाल यादव ने बताया कि मामला प्रेम प्रसंग का है. वहीं दोनों नाबालिग हैं, पुलिस अनुंसधान कर रही है.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...