02 अगस्त 2016

मधेपुरा: चौसा में बाढ़ का कहर जारी, प्रशासन ने बढ़ाया मदद का हाथ

कोसी नदी में बढ़ते जल स्तर के कारण मधेपुरा जिले के चौसा प्रखंड में बाढ़ का कहर जारी है. प्रशासन द्वारा बाढ़ पीड़ितो के बीच सूखा राशन का वितरण किया जा रहा है. राहत वितरण प्रखंड विकास पदाधिकारी मिथिलेश बिहारी वर्मा और अंचल अधिकारी अजय कुमार की देख रेख में किया जा रहा है. फुलौत के कई गांवों में एक शिविर लगा कर जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों के हाथों सैकड़ों लोगों को सूखा राशन प्रदान किया गया.
      मालूम हो कि मोरसंडा पंचायत के मोरसंडा, अमनी, महादलित टोला करेलिया मुसहरी, श्रीपुर बासा, परवत्ता, सिढ़ो बासा, फुलौत पूर्वी पंचायत के करेल बासा, अनूपनगर नयाटोला, पिहोड़ा बासा, बड़ी खाल, बड़बिग्घी, फुलौत पश्चिमी पंचायत के झंडापुर बासा, पनदही बासा, घसकपुर, सपनी मुसहरी आदि गांवों के चारो तरफ बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया है. पानी आने से गांवों का आवागमन ठप्प हो गया है. बाढ़ का पानी लोगों के घर आंगन से बह रहा है.
     बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों का दौरा करने के बाद की स्थिति देखते हुए मधेपुरा डीएम मो० सोहैल ने बाढ़ पीड़ितों के बीच राहत सामग्री वितरण करने का आदेश दिया. जिला पदाधिकारी के निर्देश पर प्रखंड विकास पदाधिकारी मिथिलेश बिहारी वर्मा एवं अंचल पदाधिकारी अजय कुमार ने शिविर लगा कर सैकड़ों बाढ़ पीड़ितों के बीच सूखे राशन का वितरण किया. अंचल प्रशासन द्वारा सपनी मुसहरी, पिहोरा बासा एवं झंडापुर बासा में शिविर लगा कर 560 लोगों के बीच राहत सामग्री का वितरण जिला परिषद प्रतिनिधि अनिकेत मेहता, मुखिया पंकज मेहता, उपमुखिया सोनेलाल मल्लिक, विद्यानंद पासवान, बीडीओ मिथिलेश बिहारी वर्मा, सीओ अजय कुमार, अंचल निरीक्षक दयानंद पंडित के हाथों किया गया. राहत सामग्री में चूड़ा दो किलो, चना एक किलो, मोमबत्ती छह, माचिस छह, चीनी आधा किलो और नमक आधा किलो शामिल हैं.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...