30 अगस्त 2016

‘अशिक्षित दूसरे के भरोसे जिंदगी जीने को विवश ’: मधेपुरा में शिक्षा जागरूकता अभियान

प्राइवेट स्कूल्स एण्ड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोशिएसन मधेपुरा के बैनर तले दार्जिलिंग पब्लिक स्कूल के छात्र एवं छात्राओं के द्वारा रविवार को शिक्षा जागरूकता अभियान चलाया गया.
   बता दें कि मघेपुरा के जिलाधिकारी मो० सोहैल के दिशा निर्देशानुसार जिला अध्यक्ष किशोर कुमार के द्वारा जिला के विभिन्न गाँवों में बच्चों को सरकारी एवं गैरसरकारी विद्यालय में अध्ययन करने हेतु जागरूकता अभियान पिछले दिनों प्रारंभ किया गया था. जिसे आगे बढ़ाते हुए आज जजहट सबैला पंचायत के वार्ड नं० 6 झिटकिया में आयोजित किया गया. काफी संख्या में पहुँचे बच्चों को संबोधित करते हुए श्री कुमार ने कहा कि शिक्षा विहीन मनुष्य पशु के समान है. यदि मनुष्य शिक्षित नहीं हो तो वह आँख, कान रहते हुए भी अंधा, बहरा हो जाता है. दूसरे के भरोसे जिंदगी जीने को विवश हो जाता हैं जिसमें कई बार धोखा खाना पड़ता है.  
      अभिभावकों केा सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि एमडीएम एवं अन्य सरकार की योजनाएँ समय पर सुचारू रूप से चलें या नहीं चले बच्चों को विद्यालय निष्चित रूप से भेजें. ये बच्चे शिक्षित होंगें, तभी आपके वृद्धावस्था में वास्तविक सहारा बन सकेंगे.
           संघ के संयोजक श्री चिरामणी प्रसाद यादव ने कहा कि जिलाधिकारी महोदय के आदेशानुसार इसे प्रत्येक रविवार एवं विशेष अवकाश पर विभिन्न प्रखंडों में अभियान के रूप में चलाया जाएगा. बच्चों के बीच में क्विज का भी आयोजन किया गया एवं उत्कृष्ठ जबाब देने वाले बच्चों को पुरस्कृत किया गया.
         इस अवसर पर उपस्थित मोलाना मरतूजा, जुलफाकहर, हाफिज मुबारक एवं अन्य बुद्धिजिवीयों ने अपना विचार व्यक्त किया. (नि.सं.)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...