20 अगस्त 2016

‘गुरु को है भगवान् का दर्जा, उस विश्वास को खंडित न करें’: कल छात्रा से छेड़खानी के बाद आज स्कूल पहुंचे बीडीओ

मधेपुरा जिले के आलमनगर प्रखंड के विजया स्मारक प्रोजेक्ट कन्या उच्च विद्यालय की दशमी की छात्रा के साथ अभद्र व्यवहार एवं धक्का मुक्की कर स्कूल से बाहर करने के आरोपी  विद्यालय के प्रधानाध्यापक प्रवीण कुमार राम को आलमनगर थाना के द्वारा केस दर्ज करते हुए जेल भेजने के बाद विद्यालय के छात्रा को सभी विवादों को भूलते हुए नये सिरे से विद्यालय आकर पढ़ने के लिए जागरूक करने के लिए प्रखण्ड विकास पदाधिकारी मिन्हाज अहमद एवं जदयू प्रखण्ड अध्यक्ष सह बीस सूत्री 
     अध्यक्ष राजेश्वर राय विद्यालय परिसर पहुँच कर छात्राओं से मिलकर हिम्मत बढ़ाया.  विद्यालय में चल रहे कक्षा में घुम-घुम कर छात्राओं को हिम्मत बढाते हुए उन्होंने कहा कि आप सभी छात्रा निर्भीक होकर विद्यालय आयें और जो शिक्षक पढ़ाते हैं उसे ध्यानपूर्वक पढ़े. आप लोगों को डरने की आवश्यकता नहीं है. शिक्षक पिता के समान होता है इसमें से कुछेक शिक्षक ही गलत कार्य में संलिप्त रहते हैं. ऐसे शिक्षक से डरने की कोई बात नहीं है आप लोग अगर गुरू को पिता के समान समझेंगे तो गुरू भी आपको अपनी बच्ची समझकर जरूर ज्ञान देंगे. ऐसे में अगर कोई शिक्षक गलत कार्य करता है तो वेसे शिक्षकों के लिए वरीय पदाधिकारी हैं, उन्हे कभी भी बख्सा नहीं जायेगा. वहीं उन्होने कहा कि अगर आप स्कूल में प्रत्येक दिन आकर शिक्षा ग्रहण करते हैं तो आपको कोचिंग की आवश्यकता नहीं पड़ेगी.
      वहीं विद्यालय के छात्राओं ने प्रखण्ड विकास पदाधिकारी से गुहार लगाते हुए कही कि हमलोगों का स्कूल 10+2 होने के बावजूद मात्र पांच ही शिक्षक हैं. ऐसे में  सभी विषय की पढ़ाई नहीं हो पाती है. विद्यालय में सभी विषय के शिक्षक की बहाली की जाय. छात्राओं ने प्रखण्ड विकास पदाधिकारी को बताया कि अभी तक नेपकीन एवं छात्रवृति का रूपया भी नहीं मिल पाया है, जबकि मार्च में ही 2015-16 के रूपये का उठाव बैंक से हो गया था. इस बात पर प्रखण्ड विकास पदाधिकारी ने छात्राओं को कहा कि किसी भी परिस्थिति में आप लोगों का बकाया राशि मिलेगा. वहीं उपस्थित शिक्षकों को निर्देश देते हुए कहा कि आप सभी शिक्षक भी कर्तव्यनिष्ठा के साथ विद्यालय में पठन-पाठन को सुचारू रूप से चलाये. उन्होने कहा कि गुरू को भगवान का दर्जा दिया जाता है आप लोग उस विश्वास को खंडित न करें. वहीं उन्होने कहा कि किसी भी परिस्थिति में छात्राओं के साथ पिटाई न करें.
     दूसरी तरफ स्थानीय ग्रामीणों ने प्रखण्ड विकास पदाधिकारी को आवेदन देते हुए दोषी शिक्षक पर कारवाई करने के साथ-साथ तत्काल इस विद्यालय से स्थानांतरण कराते हुए विद्यालय में पहले जैसा शांति स्थापित करने की मांग की. इस मौके पर जदयू प्रखण्ड अध्यक्ष राजेश्वर प्र० राय, लालेन्द्र प्र० सिंह एवं विद्यालय के शिक्षकगण मौजूद थे.
(रिपोर्ट: प्रेरणा किरण)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...