26 जुलाई 2016

BNMU: छात्र संगठनों ने किया वीसी के खिलाफ नंग-धड़ंग प्रदर्शन

मधेपुरा में संयुक्त छात्र संगठन द्वारा विश्वासघात दिवस मनाने के बाद विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ आन्दोलन तेज कर दिया गया. दर्जनो की संख्या मे छात्रो ने आज अर्द्धनग्न जुलूस निकाला.                      
       विश्वविद्यालय मुख्यद्वार से शुरू हुआ जुलूस विभिन्न कार्यालय व विभागों के सामने से गुजरा. इस दौरान कार्यकर्ताओं ने जम कर विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ जम कर नारेबाजी की. छात्र नेताओं का आरोप था कि कुलपति ने बीएड प्रवेश परीक्षा की रिजल्ट प्रकाशित कर दोहरे चरित्र का परिचय दिया है, जिसे हम संयुक्त छात्र संगठन कतई बर्दाश्त नही करेंगे. छात्र नेताओ का कहना था कि विभिन्न संगठनो की एकता विश्वविद्यालय प्रशासन की मनमानी के खिलाफ शंखनाद है.
      उन्होंने बताया कि विश्वविद्यालय संयुक्त छात्र संगठन से समझौता के बाद बीएड का रिजल्ट जारी कर दिया था जिसके खिलाफ संयुक्त छात्र संगठन ने फिर से आंदोलन जारी कर दिया. संयुक्त छात्र नेताओ का कहना था कि अब विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ आरपार की लड़ाई होगी जिसे अंजाम तक ले जाना सबका उदेश्य है. ऐकेडमिक कैलेंडर लागू करने, डॉ. वशिष्ठ नारायण सिंह को वापस बुलाने, पीजी तक कि पढ़ाई  गर्ल्स को फ्री करने, 75% छात्रो की उपस्थित अनिवार्य करने सहित अन्य मांगो के समर्थन मे संयुक्त छात्र संगठन लगातार आंदोलन कर रही है. छात्र नेताओ का यह भी कहना था कि विश्वविद्यालय लूट खसोट का अड्डा बन गया है. छात्र नेताओ का कहना था कि ये क्रमबद्ध आंदोलन विश्वविद्यालय प्रशासन के सुधार के लिए मिल का पत्थर साबितहोगा.
     अर्द्धनग्न प्रदर्शन के दौरान एनएसयूआई के प्रदेश महासचिव मनीष कुमार,  पूर्व राष्ट्रीय प्रतिनिधि प्रभात कुमार मिस्टर, एआइएसएफ विश्वविद्यालय  प्रभारी हर्षवर्धन सिंह राठौर, मो0 वसीमुद्धीन, नीरज कुमार, आरके रंजन, फिरोज, छात्र जाप के आकाश सिंह यादव, सोनू यादव, एनएसयूआई के निशांत यादव,  गौरव कुमार, मौसम झा समेत विभिन्न संगठनो के दर्जनो कार्यकर्ता मौजूद थे.
(रिपोर्ट: कुमारी मंजू)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...