18 जुलाई 2016

महादेव की पावन नगरी सिंहेश्वरधाम मे श्रावणी मेले को लेकर चहल पहल शुरू

देवाधिदेव महादेव की पावन नगरी सिंहेश्वरधाम मे श्रावणी मेले को लेकर चहल पहल शुरू हो गई है. औघडदानी शिव के भक्तों का माह पवित्र सावन 20 जुलाई से शुरू होने के कारण अगवानी से गंगाजल ले कर बाबा आशुतोष को गंगाजल अर्पण करने के लिये कई कावरियो का जत्था तैयार है.
    वहीँ प्रशासनिक हलकों में भी श्रावणी मेला को ले कर तैयारी शुरू कर दी गई है. अंचलाधिकारी सिंहेश्वर जय जय राम यादव ने बजाप्ता बाजार को अतिक्रमण से मुक्त करने के लिये कमर कस लिया है. अतिक्रमण को हटाने के लिये पूरे बाजार मे माइकिंग करा कर सभी दुकानदारों को सूचित कर दिया गया है कि अतिक्रमणकारी मंगलवार से पहले अपने अपने दुकान खुद हटा लें अन्यथा मंगलवार को प्रशासन अपने स्तर से अतिक्रमण हटा देगी तथा सरकार हटाने का खर्च भी दुकानदारों से वसूल कर लेगी.
   
दूसरी तरफ मुख्य बाजार में नाले की सफाई कछुआ की गति से होने के कारण भी लोगो मे रोष दिखाई दे रहा है. खासकर जब जब हल्की भी बारिस होती है तो सड़क पर लोगों का चलना भी दुर्लभ हो जाता है. लेकिन प्रशासन अब तक मौन है. कई लोगों का कहना है कि बरसात में भी अगर नाले की सफाई करनी ही थी तो पश्चिम साइड का नाला पहले साफ करते, क्योंकि उस तरफ नाला के उपर से पानी बहने तथा हलकी बारिस में भी नाला का पानी कई दुकानो मे घुस जाता है.
    ऐसे में चिंता इस बात की है कि दो दिन बाद से शुरू हो रहे बाबा के भक्तों के महापर्व सावन मे भी यही स्थिति रही तो देश-विदेश से आने वाले लाखो श्रद्धालुओं का क्या हाल होगा भगवान ही जाने. खासकर जब से कोशी पर महासेतु बना है उसके बाद से सावन के सोमवारी को बिहार के देवघर सिंहेश्वर में रिकार्ड तोड़ भीड उमड़ती है. हालांकि इस बार इससे निपटने के लिये प्रशासन पहले से ही तैयार दिख रही है. माइकिंग कर प्रशासन ने सपष्ट कर दिया है कि पूरे सावन भादो माह मे सुबह 4 बजे से रात 9 बजे तक कोई भी ऑटो बाजार में नजर नही आयेगा. अब देखना है कि का यह दावा हकीकत की धरातल पर कितना उतर पाता है.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...