02 जुलाई 2016

दो पूर्व मुखिया समेत तत्कालीन पंचायत सचिव पर एफआईआर: लाखों के गबन का आरोप

कई योजनाओं में राशि गबन के आरोपी आलमनगर प्रखण्ड के कुंजौड़ी पंचायत के दो पुर्व मुखिया रंजू सिंह एवं रीना देवी सहित तत्कालीन ग्राम पंचायत सचिव प्रदीप विश्वास पर आखिरकार प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश हो गया.
       इनपर ग्राम पंचायत में चलाये गये पिछड़ा क्षेत्र अनुदान निधि योजना, तेरहवी वित्तीय योजना एवं चतुर्थ राज्य वित्तीय आयोग योजना से पंचायत में चलाये गये कुल 38 योजनाओं में बड़ी अनिमियतता का आरोप लगा है.
    मिली जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत कुंजौड़ी के वार्ड सदस्य जनार्दन पासवान सहित अन्य वार्ड सदस्यों ने आरोप लगा कर पंचायत में व्यापक रूप से सरकारी योजना में राशि गबन करने की जांच हेतु परिवाद पत्र दाखिल किया गया था जिसके आलोक में बीडीओ द्वारा पंचायत में चलाये गये सभी योजनाओं की भौतिक निरिक्षण किया गया. इनमें कई योजनाओं में बड़ी अनियमितता करते हुए सरकारी राशि का गबन के मामले सही पाए गए.
     इस तरह से पंचायत में चलाये गये योजनाओं में से 60,38,042 राशि का बिना समायोजन किये हुए गबन कर लिया गया. इस बाबत प्रखण्ड विकास पदाधिकारी मिन्हाज अहमद के द्वारा जिला अधिकारी मधेपुरा का पत्रांक 48/पं0 दिनांक 28 -1 -16 एवं अनुमंडल पदाधिकारी उदाकिशुनगंज के पत्रांक 25642 दिनांक 16/6/16 सहित बी डी ओ के द्वारा स्थलीय जाँच प्रतिवेदन प्रत्रांक 1441 -2 दिनांक 14/9/15 के आधर पर पुर्व मुखिया रंजू सिंह एवं रीना देवी और तत्कालीन पंचायत सचिव सह बिहारीगंज प्रखण्ड में वर्तमान पंचायत सचिव प्रदीप विश्वास पर प्राथमिकी दर्ज करने के लिए आवेदन दिया गया है.
     इस बाबत थानाध्यक्ष सर्वेश्वर सिंह ने बताया कि मामला दर्ज कर लिया है.  
(रिपोर्ट: प्रेरणा किरण)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...