05 जुलाई 2016

मधेपुरा: पीएचसी आवास का छत गिरा, बाल-बाल बची एएनएम

मधेपुरा जिले के पुरैनी पीएचसी में पदस्थापित एएनएम एमीली मुर्मू आज उस समय बाल-बाल बच गई जब उनके सरकारी आवास का जर्जर छत अचानक गिर पड़ा. एएनएम एमीली मुर्मू उस जर्जर आवास में रहने को वर्षों से विवश हैं क्योंकि पुरैनी पीएचसी में कर्मियों के रहने के लिये आवास नहीं है.
       इसका खामियाजा उन्हें आज मंगलवार को तब भुगतना पड़ा जब वह दो दिनों से लगातार हो रही बारिश की वजह से अहले सुबह अपने आवास में सो रही थी और छत का एक हिस्सा टूट कर उनके शरीर पर गिर पड़ा. घटना में उनके सर व पैर में गम्भीर चोट आयी है.
       सवाल यह उठता है की जब पीएचसी में कार्यरत कर्मियों को ही बुनियादी सुविधा की दरकार है तो ऐसे में हम बेहतर स्वास्थ्य सुविधा की कैसे उम्मीद कर सकते हैं.
     विभागीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार वर्षों पूर्व बीएनएसईसीएल कंपनी द्वारा आवासीय भवन व अस्पताल भवन के निर्माण के बाबत भूमि की मापी की गयी थी लेकिन मापी के बाद से अबतक योजना का शुभारम्भ नहीं हो सका.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...