25 जुलाई 2016

मधेपुरा: मुख्य पार्षद के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने को एकजुट वार्ड पार्षदों ने की बैठक

मधेपुरा नगर परिषद् के मुख्य पार्षद और उप-मुख्य पार्षद के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने के लिए नगर परिषद् के कई वार्ड पार्षद एकजुट हुए हैं.
    मधेपुरा जिला मुख्यालय के मिड-वे होटल में दर्जन भर वार्ड पार्षद ने एक बैठक कर कहा कि नगर परिषद् के वर्तमान मुख्य पार्षद डॉ. विशाल कुमार बबलू और उप-मुख्य पार्षद रामकृष्ण यादव के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने के लिए नगर परिषद् अधिनियम की धारा 25 (4) के आलोक में उन्होंने कार्यपालक पदाधिकारी से विशेष बैठक बुलाने की मांग की है.
    उपस्थित वार्ड पार्षदों ने आरोप लगाया है कि वर्तमान मुख्य पार्षद तथा उप-मुख्य पार्षद के कार्यकाल में विगत दो वर्षों में 9 बार ही सामान्य बैठक बुलाई गई है जबकि बैठक प्रत्येक माह होनी चाहिए थी. अंतिम बैठक में तो मारपीट, छेड़खानी एवं धक्कामुक्की भी हो गई जो गरिमा विहीन कार्यकलाप है. इसके अलावे दोनों पद धारित व्यक्तियों के द्वारा वित्तीय अनियमितता एवं अन्य प्रकार के गैर वैधानिक कार्य भी किये गए हैं, जिसके कारण अब सदन का विश्वास वर्तमान मुख्य पार्षद एवं उप-मुख्य पार्षद पर नहीं रहा है.
    वार्ड पार्षद निर्मला देवी, विनीता भारती, रेशमा प्रवीण आदि ने कहा कि हमारे पक्ष में कुल 14 वार्ड पार्षद हैं और अविश्वास प्रस्ताव में मुख्य पार्षद और उप-मुख्य पार्षद की कुर्सी जानी तय है.
    उधर अविश्वास प्रस्ताव लाये जाने के मुद्दे पर वर्तमान मुख्य पार्षद डॉ. विशाल कुमार बबलू ने कहा कि उन्हें इस सम्बन्ध के कार्यालय से विधिवत कोई पत्र प्राप्त नहीं हुआ है. पत्र मिलने के बाद वे उस पर वार्ड पार्षदों के द्वारा किए गए हस्ताक्षरों की मापदंडों पर आधरित जांच के बाद ही कुछ कह सकेंगे. वैसे उन्हें पूरा भरोसा है कि नगर परिषद् में कोई भी वार्ड पार्षद विकास विरोधी नहीं है और वे अल्प समय के लिए उनके विरूद्ध कोई ऐसा कदम नहीं उठाएंगे.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...