14 जून 2016

विधानसभा मतदाता सूची में नाम पर पंचायत सूची में नहीं: सत्ता पक्ष के पीड़ित ने ही की गमैल पंचायत का चुनाव रद्द करने की मांग

भारत निर्वाचन आयोग नई दिल्ली को फैक्स संदेश भेज कर बिहारीगंज के गमैल पंचायत का चुनाव रद्य करने की मांग की गई है.
        आवेदनकर्ता जद यू किसान प्रकोष्ठ बिहारीगंज के प्रखंड अध्यक्ष सुभाष चन्द्र बिहारी ने आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई है. आवेदक के अनुसार उसकी पुत्रवधू मेघा देवी वार्ड 02 से 125 रूपये का एनआर पंच पद के लिए ली थी. बाद में पता चला कि उसका नाम पंचायत के मतदाता सूची में नहीं है. इस कारण वे चुनाव लड़ने से वंचित रह गयी, जबकि मेघा का नाम विधानसभा के मतदाता सूची क्रमांक 1303 में अंकित है. आवेदक के अनुसार एक साजिश के तहत उसके नाम को जानबूझकर हटाया गया, ताकि चुनाव लड़ने से वंचित हो सके. इसके अलावे कई मतदाता का नाम ससुराल व मायके में दर्ज है. आरोप लगाया कि साथ ही बड़े पैमाने पर फर्जी मतदाता का नाम भी जोड़ा गया ताकि चुनाव में बोगस मतदान कर जीत दर्ज की जा सके.
   उपरोक्त बावत राज्य चुनाव आयोग को भी जानकारी दी गयी, पर कोई कार्रवाई नहीं हुई. आवेदनकर्ता के अनुसार अगर आयोग की ओर से जल्द कोई फैसला नहीं लिया गया तो वे इस मामले को कोर्ट ले जाने को बाध्य होगें.
(रिपोर्ट: रानी देवी)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...