03 जून 2016

रोचक परन्तु तनावपूर्ण रहा सहरसा के सिमरी पंचायत में मुखिया का एक मत से फैसला

सहरसा जिले के सिमरी बख्तियारपुर प्रखंड के उच्च विद्यालय में चल रहें सिमरी बख्यिारपुर प्रखंड की मतगणना के पांचवें दिन सिमरी पंचायत से मुखिया पद का फैसला मात्र एक मतों के अन्तर से हुआ.
    इस पंचायत से मुखिया प्रत्याशी किशोरी प्रसाद केशरी की पत्नी पूनम देवी ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी प्रखंड राजद अघ्यक्ष हैलाल असरफ की पत्नी बीबी शाहीन खातून को कड़े मुकाबले में एक मत से पराजित किया. पूनम देवी को कुल 994 मत प्राप्त हुए जबकि बीबी शाहीन खातुन को 993 मत प्राप्त हुआ. 

 रात एक बजे तक होती रही पुर्नमतगणना
: सहरसा में पांचवे दिन के मतगणना के आखिरी पंचायत के रूप में सिमरी पंचायत कि गणना दोपहर बाद शुरू किया गया. शाम पांच बजे के करीब विभिन्न प्रत्याशियों के एजेन्टों के द्वारा की गई वोटों गिनती का मिलान किया गया तो बीबी शाहीन खातुन के करीब 15 मतों के अन्तर से आगे होने की बात वहां मौजूद उनके लोगो ने कहना शुरू कर दिया. इसी बात पर उनके सर्मथकों ने जीत का जश्न मनान शुरू कर दिया.
    इसी बीच पूनम देवी के अभिकर्ता किशोरी प्रसाद केशरी ने बीबी शाहीन के पक्ष के तीन बूथों के पुर्नमतगणना का आवेदन दिया. निर्वाची पदाधिकारी ने बिना कम्पाइलिंग का अंतर जाने पुर्नमतगणना का आदेश दे दिया.
एसडीओ और डीएसपी की सुझबुझ से दोनों पक्षों में तनाव होते होते बचा: जश्न मना रहे बीबी शाहीन खातून के सर्मथकों को ज्योंहि इस बात का पता चला कि बीबी शाहीन खातुन के पक्ष के 11 मतों को अवैघ घोषित कर दिया गया सर्मथकों का जुटना उच्च विधालय के मैदान पर शुरू होने लगा. दोनों पक्षों की ओर से सैकड़ों सर्मथक जब उच्च विधायक के मैदान में जुट गये तो दोनो पक्षो के आपस में भिडंत की आशंका को देखते हुये खुद डीएसपी अजय नारायण यादव कमान संभाल कर स्थिति पर नजर रखने लगे. इस बीच एसडीओ सुमन प्रसाद साह खुद गणना की कमान थाम लिया.

कम्पाईलिंग में मात्र एक मत का था अंतर: प्रशासनिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पूनम देवी के दिये आवेदन पर पुर्नगणना की जा रही थी कि इस बीच कम्पाइलिंग के परिणाम सामने आ गये जिसमें मात्र एक मत का अंतर मिला जो पूनम देवी के पक्ष में था. तीन बूथों के पुर्नगणना के बाद एक मत बीबी शाहीन खातून के बंडल में अवैध मिला. इस प्रकार मतों का अंतर दो हो जाने पर बीबी शाहीन खातुन के अभिकर्ता ने पूनम देवी के पक्ष के दो बूथों की पुर्नगणना करने का आवेदन दिया.
    एसडीओ सहित वरीय पदाधिकारीयों ने दोनों पक्षों से इस बात पर सहमत होने को कहा कि इस बार के जो भी परिणाम होगें वे अंतिम होंगें. इस बात पर दो बूथों की पुर्नगणना की जाने लगी पूनम देवी के बंडल में एक वोट अवैध पाया गया. इस प्रकार दो वोट का अंतर एक वोट पर कायम रहते हुये पूनम देवी को विजयी घोषित किया गया.

बीबी शाहीन ने लगाया पक्षपात का आरोप: बीबी शाहीन खातुन के पति राजद प्रखंड अध्यक्ष हैलाल अशरफ ने स्थानीय प्रशासन पर पक्षपात का आरोप लगाते हुये कहा कि जानबूझ कर एक गहरी साजिस के तहत हमारे प्रत्याशी को हराया गया है. जब कम्पाइलिंग का परिणाम निर्वाची पदाधिकारी को मिला ही नहीं तो वे पूनम देवी के पुर्नगणना का आदेश किस आधार पर दिया. जबकि पूनम देवी एक मत से जीती हुई थी. उन्होंने सवाल उठाते हुये कहा कि क्या कोई मात्र एक मत से जीता हुए प्रत्याशी पुर्नगणना का आवेदन देता है?
(रिपोर्ट: ब्रजेश भारती)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...