03 जून 2016

'ये रहा आपके एटीएम से रूपये चुराने वाला': सायबर क्राइम गिरोह का मुखिया गिरफ्तार

साइबर क्राइम गिरोह के बड़े मुखिया को गिरफ्तार करने में मुरलीगंज पुलिस ने सफलता हासिल की है.
    मधेपुरा एस पी विकास कुमार ने बताया कि मुरलीगंज वार्ड नम्बर 5 के निवासी माखन महतो के पुत्र सूरज कुमार को गुप्त सूचना के आधार पर गिरफ्तार किया गया जो बैंक के एटीएम से धोखाधड़ी करके लोगों के रूपए की निकासी करता था. पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मुरलीगंज थानाध्यक्ष के नेतृत्व में एक टीम गठित की गई जिसमें राजेश कुमार मुरलीगंज थानाध्यक्ष, संजीव कुमार ओपी अध्यक्ष भर्राही, रामचंद्र प्रसाद, अमर कुमार सिंह, अभिषेक कुमार, चन्द्रमोहन कुमार, प्रकाश पंडित , शाहिद, मुनेश्वर प्रसाद को लेकर बीती रत जयरामपुर वार्ड 5 के माखन महतो के घर छापेमारी की गई. पुलिस को देखते ही सूरज कुमार भागने लगा, पर पुलिस के शिकंजे से बाख न सका.
    सूरज कुमार के घर तलाशी के क्रम में पश्चिम वाले रूम से चालीस सिम और 1 सीपीयू, एयरटेल के 7, आईडिया के 3, युनीनोर के 8, एयरसेल  के 1, एस टेल के 1 सिम साथ ही एसपाई मोबाइल सेट जिसमे दो वोडा सिम, जैन मोबाइल 1, कार्बन कंपनी की मोबाइल जिसमें 2 एयरटेल सिम, माक्रोमक्स का 1 मोबाइल ख़राब हालत में, सैमसंग 1200 मॉडल का मोबाइल, सैमसंग बी 310 मॉडल का 1 मोबाइल, काले रंग का 1 मोबाइल बी 312, माइक्रोमेक्स एक्स 245 का 1 मोबाइल, सैमसंग मोबाइल सी 310 जिसमें एक एयरटेल सिम,  नोकिया एक्स 201, एस्पएस मोबाइल 1, सैमसअंग बी 350 बी माइक्रोमेक्स मॉडेम 7 पीस, कार्ड रीडर 4 पीस, संडिक्स का पेन ड्राइव १६ जी बी 1 पीस, स्टेट बैंक का एटीम कार्ड 4 पीस, स्टेट बैंक का ग्रीन कार्ड 5 पीस, डेबिट कार्ड 1 पीस, बैंक ऑफ़ इंडिया का एटीम, डेबिट कार्ड 1 पीस, पैन कार्ड 1 पीस, आधार कार्ड 2 पीस, ड्राइविंग लाइसेंस 1 पीस, करीब तीस  की संख्या में पासपोर्ट साइज़ फोटो जो अलग-अलग व्यक्तियें के हैं. साथ ही एक लाल रंग की डायरी जिसमें  सैंकडों एटीम नंबर लिखा हुआ जिसमें निचे पिन नंबर भी अंकित है.
   जब  पुलिस ने पूछताछ के उपरांत जब्त की हुए सामानों की सूची पर सूरज कुमार को हस्ताक्षर कने को कहा गया तो उसने बिना किसी हिचकिचाहट के हस्ताक्षर कर दिया और बतया कि मैं अकेला नहीं हूँ. पुलिस अधीक्षक के अनुसार इस मामले में अन्य अभियुक्तों (रैकेट सदस्यों ) की गिरफ्तारी के बाद ही आगे कुछ कहना संभव होगा. तत्काल इसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...