02 जून 2016

शिक्षिका के अपहरण के आरोपी को नाटकीय ढंग से करवाया गिरफ्तार

मधेपुरा जिले के चौसा प्रखंड के अरजपुर जमुनिया टोला निवासी दिलीप कुमार मंड़ल की पत्नी मणिमाला कुमारी, जो जानकीनगर तिलक रामपुर मे शिक्षिका के रूप मे कार्यरत है, ने पिछले दिनों अपने अपहरण की प्राथमिकी पुरैनी थाना मे दर्ज करवाई थी. जिसमें उसने बयान दिया कि बिहारीगंज से ओटो लेकर मुरलीगंज के रास्ते जानकीनगर जा रही थी कि उसी दौरान आलमनगर के गौछी इटहरी निवासी पंकज कुमार चौधरी पिता बनारसी चौधरी उसे टेम्पो से उतार कर चौसा के फुलौत गाँव ले गया. वहाँ से उसे पुरैनी के दुर्गापुर होते हुए कहीं और ले जा रहा था.
      अपहरण के उस मामले में आरोपी पंकज को मुरलीगंज में गिरफ्तार कर लिया गया है. जानकारी के अनुसार मणिमाला के भाई ने मणिमाला द्वारा फोन करवाया कि अमुक जगह मिलो. वहाँ पहले से मौजूद लड़की के भाई और सहयोगी द्वारा पकड़ कर मुरलीगंज थाने लाया गया. लड़के का कहना है हम थाने आ रहे थे आवेदन देने कि गलत ढंग से हमें अपहरण के केस मे फंसाया जा रहा है.
      पुरैनी थानाध्यक्ष ने पिछले दिनों बताया था कि उक्त युवक पहले शिक्षिका के गाँव अरजपुर पूर्वी मे रोजगार सेवक था और मामला प्रेम प्रसंग का है. दोनों एक दूसरे को जानते हैं. पंकज की पत्नी भी शिक्षिका है और पंकज दो बच्चों का पिता है. उधर मणिमाला भी शिक्षिका है और तीन बच्चों की माँ है तथा गर्भवती भी है.
   मामला जो भी हो प्रेम प्रसंग या अपहरण यह अनुसंधान का विषय है ऐसा मुरलीगंज थानाध्यक्ष का मानना है. फिलहाल हम इसे अपहरण के आवेदन के आलोक में न्यायिक हिरासत मे जेल देंगे.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...