05 जून 2016

मधेपुरा: आलमनगर में मुखिया प्रत्याशी समर्थकों ने मतगणना केंद्र पर जम कर बरसाए रोड़े

मधेपुरा जिला के आलमनगर प्रखंड में पंचायत चुनाव के बाद पुर्नमतगणना के उपरांत सिंहार पंचायत के मुखिया प्रत्याशी को 10 मतों से बढ़त मिलने के बावजूद प्रमाण पत्र नहीं मिलने से आक्रोशित मुखिया प्रत्याशी के समर्थकों ने मतगणना केन्द्र वीरेन्द्र कला भवन पर जम कर पत्थर एवं रोड़े बरसाये, जिससे लगभग आधे घंटे तक मतगणना केन्द्र पर अफरा तफरी कायम हो गया.
   पुलिस वालों ने संयम बरतते हुए मूक दर्शक बनकर भवन के अन्दर छिप कर अपनी जान बचाई. प्रशासन के द्वारा बार-बार आक्रोशित सर्मथकों को शांत रहने की अपील करने व वरीय पदाधिकारी से बात करते हुए प्रमाण पत्र देने के अश्वासन पर समर्थकों का गुस्सा शांत हुआ. वहीं मतगणना केन्द्र पर हुए पथराव की सूचना मिलते हीं अनुमंडल पदाधिकारी मुकेश कुमार व अनुमण्डल पुलिस पदाधिकारी रहमत अली पुलिस बल के साथ मतगणना केन्द्र पर पहुँच कर स्थिति का जायजा लिया.
      बता दें कि सिंहार पंचायत की मतगणना शुक्रवार की सुबह की पाली में की गई थी, जिसमें मुखिया पद के लिए नीलम देवी ने पूनम देवी पर 2 मतों से बढ़त बना ली. पुर्नमतगणना किए जाने पर पूनम देवी ने नीलम देवी पर 10 मतों से बढ़त बना ली. इसकी सूचना मिलते हीं नीलम देवी के समर्थकों ने शुक्रवार के रात वरीय पदाधिकारी को देर रात करीब 12 बजे तक बंधक बना कर रखा. वहीं शनिवार को पूरे दिन एन एच 106 को मधेली चौक पर अवरूद्ध कर यतायात पूरी तरह ठप्प कर जम कर प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की.
    वहीं पुर्नमतगणना में 10 बढ़त मिलने पर पूनम देवी के सर्मथकों द्वारा बार-बार निर्वाची पदाधिकारी सहित अन्य वरीय पदाधिकारी को जीत घोषणा करने के साथ-साथ प्रमाण पत्र देने के लिए आग्रह किया गया. वहीं शनिवार की रात भी पूनम देवी के समर्थकों ने मतगणना केन्द्र पर पहुँच कर अविलम्ब प्रमाणपत्र देने की मांग करते हुए नारेबाजी की. जिसके बाद निर्वाची पदाधिकारी द्वारा वरीय पदाधिकारी के आने के बाद रविवार को प्रमाण पत्र देने का अश्वासन दिया गया परन्तु पूनम देवी के समर्थक अधिकारियों के द्वारा टालमटोल से उनके सब्र का बाँध टूट गया और आक्रोश में तबदील हो गया. आज मतगणना केन्द्र पर प्रशासन के विरोध में जमकर नारेबाजी करते हुए ईट-पत्थरों की बरसात कर दी.
    हालाँकि मतगणना स्थल पर तैनात आलमनगर थानाध्यक्ष सर्वेश्वर सिंह संयम बरतते हुए बार-बार क़ानून हाथ में न लेने की अपील करते रहे. जिस वजह से एक बड़ी घटना घटने से बाल-बाल बचा. वहीं सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम के लिए पुरैनी थानाध्यक्ष राजेश कुमार सहित पर्याप्त मात्रा में पुलिस बल आलमनगर मतगणना केन्द्र तैनात किया गया है.
(रिपोर्ट: प्रेरणा किरण)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...