06 मई 2016

मधेपुरा: आलमनगर में चुनाव के दौरान डीएम-एसपी पर पथराव

मधेपुरा जिले के आलमनगर प्रखण्ड क्षेत्र में चौथे चरण हो रहे मतदान के दौरान डीएम तथा एसपी के द्वारा एक प्रत्याशी द्वारा मतदाताओं को अपने पक्ष में लुभाने हेतु भोज खिलाने की सूचना पर गिरफ्तारी किये जाने के बाद प्रत्याशियों के सर्मथकों द्वारा डीएम, एसपी सहित अन्य पुलिसकर्मियों पर जमकर पथराव किया गया. जिसमें कई पुलिसकर्मियों को चोटें आयी, वहीं एसपी के वाहन को भी उग्र सैंकड़ों समर्थकों एवं असमाजिक तत्वों द्वारा क्षति पहुंचाई गई. पथराव के विरोध में पुलिस ने भी लाठियां चलाई जिससे कुछ प्रत्याशी सर्मथकों को भी चोटें आई.
    मिली जानकारी के अनुसार डीएम मधेपुरा मो० सोहैल एवं एसपी मधेपुरा विकास कुमार अपने काफिलों के साथ प्रखण्ड के जिलावर्ती सीमा एवं दियरा क्षेत्र में मतदान केन्द्रों का निरीक्षण करते हुए रतवारा पंचायत क्षेत्र अंतर्गत मुरौत गाँव के समीप स्थित मतदान केन्द्र संख्या 176,177,178 एवं 179 पर जायजा लेने पहुंचे. इस दौरान डीएम को सूचना मिली एक मुखिया प्रत्याशी पूनम कुमारी द्वारा मतदाताओं कों अपने पक्ष में मतदान कराने हेतु लोभ स्वरूप भोजन कराया जा रहा है. सूचना मिलते ही डीएम एवं एसपी ने बूथ से थोड़ी दूर हटकर मुखिया प्रत्याशी के घर पर छापा मारा एवं चार व्यक्ति को मतदाताओं को लोभ देने के साथ-साथ पर्ची देते हुए पकड़ा. साथ ही मुखिया के घर पर लगभग दो सौ से ज्यादा मतदाताओं को भोजन खिलाया जा रहा था कि डीएम के आदेश पर चार मुखिया सर्मथक कार्यकर्ता को पकड़ा एवं भोज करने एवं मतदाता को लुभाने का कार्य बंद करने का आदेश दिया. इस पर मुखिया प्रत्याशी के समर्थक उग्र हो गये एवं नोक झोंक अधिकारियों एवं मुखिया प्रत्याशी के सर्मथकों के बीच शुरू हो गई.
   देखते ही देखते सैकड़ों की संख्या में समर्थक एवं असमाजिक तत्वों द्वारा डीएम एवं एसपी को काफिले सहित घेर लिया एवं पकड़े गये समर्थकों को छुड़ाने के लिए दबाब दिया जाने लगा. डीएम द्वारा नहीं छोड़ने की बात पर प्रत्याशी समर्थक भड़क गये एवं घेर कर पथराव करने लगे. पथराव के दौरान कई पुलिसकर्मियों सहित मीडियाकर्मियों को भी चोटें लगी. पुलिस द्वारा भीड़ को तितर-बितर करने के लिए हलकी लाठी भी चलानी पडी. वहीं उग्र भीड़ में शामिल खास कर महिलाओं द्वारा पुलिस की वाहन में गिरफ्तार कर बैठाये गये समर्थकों को जबरदस्ती खींच कर छुडा लिया.
      डीएम एवं एसपी को वहां निकलने में घंटो मशक्कत करना पड़ा, वहीं रतवारा ओपी अध्यक्ष उमेश पासवान को दल बल के साथ घटना स्थल पर बुलाया गया एवं  ओपी अध्यक्ष को मुखिया समर्थक सहित असमाजिक तत्वों की पहचान करने का निर्देश दिया. साथ ही उक्त मतदान केन्द्रों पर अतिरिक्त पुलिस बल एवं दंडाधिकारी को लगाया गया.
   इस बावत जिला पदाधिकारी मधेपुरा मो० सोहैल ने बताया कि मुखिया प्रत्याशी द्वारा बड़ी संख्या में मतदाताओं को रिझाने के लिए खाना खिलाया जा रहा था. इससे स्पष्ट है कि रतवारा पंचायत के मतदान केन्द्र संख्यां 176,177,178 एवं 179 पर  एवं निष्पक्ष चुनाव नहीं हो सका है, जिसके कारण चुनाव आयोग को इन मतदान केन्द्रों पर पुर्नमतदान कराये जाने की सिफारिश भेजी जा रही है. वहीं पुलिस अधीक्षक मधेपुरा विकास कुमार ने बताया कि भीड़ में शामिल उपद्रवियों को चिन्हित किया जा रहा है एवं सभी पर प्राथमिकी दर्ज की जायेगी.
(रिपोर्ट: प्रेरणा किरण)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...