13 मई 2016

प्रधान की मनमानी और धमकी से सहमी कस्तूरबा की वार्डेन: एस.पी.से गुहार

आपसी विवादों के घेरे में है जिला मुख्यालय का बालिका कस्तूरबा विद्दालय और ऐसे में बच्चों झेलनी पड़ रही है कठिनाई.
    जानकारी के अनुसार जिला मुख्यालय स्थित कस्तूरबा बालिका विद्दालय में दबंग प्रधानाधयाप्क और वार्डेन के बीच चल रही प्रभार को लेकर मामला गहराता जा रहा है. जिससे विद्दालय के बच्चों पर भी प्रतिकूल असर भी पड़ रहा है पठन-पाठन भी दोनों के आपसी विवाद को लेकर प्रभावित हो रहा है. भले हीं विद्दालय की स्थिति पर जिला प्रशासन की कड़ी नजर है, पर इन दिनों विद्दालय विवाद के घेरे में खड़ा नजर आ रहा है.
     हालांकि पिछले दिनों बालिका विद्दालय में चल रही विभिन्न मामले में गबन घोटालों पर से जिला प्रशासन ने पर्दा उठाने का प्रयास किया है. पर विवाद अब नया रूप लेने के कगार पर खड़ा हो रहा है. विद्यालय के प्रधानाध्यपाक से त्रस्त वार्डेन रेनू कुमारी परेशान होकर पिछले दिनों मधेपुरा के पुलिस कप्तान को लिखित आवेदन प्रेषित कर न्याय की गुहार लगायी है. वार्डेन रेनू ने लिखित आवेदन में पूर्व के वार्डन विमला कुमारी और संबंधित विद्दालय प्रधान विद्यानंद राम पर विद्यालय के आवश्यक कागजात सहित चेक बुक इत्यादि अपने पास रखकर गलत बर्ताव करने एवं उलटे केस में फ़साने की धमकी देने तथा जान से मरवा दिए जाने का आरोप लगाया है. जाहिर है ऐसे में वार्डेन रेनू कुमारी काफी सहमी हुई है.
    इस बाबत पुलिस कप्तान विकास कुमार ने मधेपुरा टाइम्स को बताया कि मुझे लिखित आवेदन प्राप्त हुआ है और जांच भी की जा रही है. अनुसंधान के बाद ही कोई आवश्यक कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने एक सवाल के जवाब में बताया कि इस मामले को लेकर जिलाधिकारी मो. सोहैल भी खुद काफी गंभीर हैं. उधर जब इस बाबत आरोपी प्रधानाधय्पक से संपर्क साधा गया तो संपर्क नहीं हो सका.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...