25 मई 2016

'असामाजिक तत्वों और दबंगों की एक नहीं चलेगी, होंगे गिरफ्तार': डीएम-एसपी

“मतदाता बेखौफ होकर अपना मतदान करें. सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए हैं. असामाजिक तत्व अगर बाहर निकले तो उन्हें बख्शा नहीं जाएगा.” उक्त बातें मधेपुरा के डीएम मो० सोहैल एवं पुलिस अधीक्षक विकास कुमार ने आज बुधवार को मध्य विद्यालय  चौसा में सभी मतदान केन्द्र पर तैनात सेक्टर दंडाधिकारी एव पुलिस अधिकारी को सम्बोधित करते हुए कही.
     चौसा प्रखंड में नौवें  चरण के तहत कल यानि गुरुवार को मतदान किया जायेगा. मतदान को ले सारी तैयारियां पूरी कर ली गई है. जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने चुनाव कर्मियों और अधिकारियों को होने वाले मतदान से सम्बंधित कई तरह के दिशा निर्देश दिये.
    जिलाधिकारी ने कहा कि प्रत्येक बूथ पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गए हैं. चुनाव के दौरान विधि व्यवस्था को प्रभावित करनेवालों को बख्शा नही जाएगा. पुरैनी एवं आलमनगर की घटना का जिक्र करते हुए कहा कि लापरवाही बर्दाश्त नही की जायेगी. चुनाव के दौरान प्रत्याशियों के समर्थको द्वारा यदि प्रलोभन देकर वोट देने की सूचना या गड़बड़ी फैलाने वालो की सूचना मिले तो सतर्क रह कर करवाई करें. डीएम ने सभी पदाधिकारी को मतदान में तेजी लाने के लिये कई आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए कहा कि जिस मतदान केन्द्र पर अधिक मतदाता हों, मतपेटी के साथ साथ वोट गिराने की व्यवस्था करें. मतदान में तेजी लाने के लिये सभी मतदानकर्मियों को सजग रहना होगा. उन्होने कहा कि चौसा का मोरसंडा, चिरौरी, फुलौत, अरजपुर आदि पंचायत के कई मतदान केन्द दुर्गम एव सीमावर्ती हैं. इन केन्द्रों पर सावधानी बरतने की आवश्यकता है. मतदान समाप्त होते ही मतपेटी को जितना जल्द हो कब्जे में ले लें. कोई गड़बड़ी ना हो इसका ख्याल रखें. किसी तरह की कोई लापरवाही बर्दाश्त नही की जायेगी.
        डीएम मो० सोहैल ने कहा कि किसी भी हालत में किसी का आथित्य स्वीकार ना करें. खाने के लिये सभी विद्यालय में रसोइया की प्रतिनुक्ति की गई है, उनसे बनवा लें. वहीं पुलिस अधीक्षक विकास कुमार ने कहा कि चुनाव के दौरान विशेष सतर्कता बरतें एवं इस दौरान जो भी व्यक्ति या प्रत्याशी चुनाव कार्य को प्रभावित करने की कोशिश करे उसपर कड़ी कार्रवाई करें. मतदान के दौरान असामाजिक तत्व सहित दबंगों की एक भी नही चलेगी. मतदान केन्द्र पर विशेष नजर रखें. उन्होने सभी पुलिस पदाधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि सभी पुलिस अधिकारी शुरू में ही असामाजिक तत्वों एव दबंगों की पहचान कर हर हालत में उन्हे गिरफ्तार कर लें. ससमय मुस्तैदी के साथ मतदान कराना सुनिश्चित किया जाय. किसी तरह की कोई लापरवाही ना करें. छोटी सी गलती बड़े पछतावे का कारण बनती है. पुरैनी एव आलमनगर की घटना की पुनरावृति ना हो इसका ख्याल रखें.          
     इस मौके पर अनुमंडल पदाधिकारी मुकेश कुमार, डीएसपी रहमत अली, अंचल पुलिस निरीक्षक सुरेश राम, बीडीओ मिथिलेश बिहारी वर्मा, सीओ अजय कुमार, थाना अध्यक्ष सुमन कुमार सिंह, डीसीएलआर विनय कुमार सिंह, बीएओ अशोक अमर, बीआरपी ओमप्रकाश परवे, सीडीपीओ कुमारी रेखा आदि मौजूद थे.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...